हालिया लेख/रिपोर्टें

Blogger WidgetsRecent Posts Widget for Blogger

19.7.09

नया अंक

यूपीए सरकार के पहले बजट का मकसद : ग़रीबों को राहत योजनाओं के हवाई गुब्बारे थमाकर पूँजीपतियों की लूट के मुकम्मल इन्तजाम!!

गोरखपुर में तीन कारखानों के मजदूरों के एकजुट संघर्ष की शानदार जीत - 'बिगुल' से जुड़े मजदूर कार्यकर्ताओं पर कातिलाना हमला मालिकान को महँगा पड़ा

पाँच साल में शहरों को झुग्गी-मुक्त करने के दावे की असलियत

लिब्रहान रिपोर्ट - फिर दफनाये जाने के लिए पेश की गयी एक और रिपोर्ट

भटिण्डा में पंजाब पुलिस द्वारा मजदूरों का बर्बर दमन

दिल्ली मेट्रो की दुर्घटना में मजदूरों की मौत का जिम्मेदार कौन? - डी.एम.आर.सी. और सरकार की हत्यारी नीतियाँ और ठेका कम्पनी की मुनाफाखोर हवस

कॉमरेड हरभजन सिंह सोही को क्रान्तिकारी श्रद्धांजलि

ग्लोबल सिटी दिल्ली में बच्चों की मृत्यु दर दोगुनी हो गयी है!

वैश्विक वित्तीय संकट का नया 'तोहफा' - ग़रीबी, बेरोजगारी के साथ बाल मजदूरी में भी इजाफा

फासीवाद क्या है और इससे कैसे लड़ें? (दूसरी किश्त)

हड़तालों के विषय में -लेनिन

अदम्य बोल्शेविक - नताशा : एक स्त्री मजदूर संगठनकर्ता की संक्षिप्त जीवनी (सातवीं किश्त)


गोरख पाण्डेय की कविता - कानून


2 कमेंट:

संदीप July 20, 2009 at 2:40 PM  

फ़ासीवाद वाले लेख में वर्तनी की कई गलतियां हैं, संभवत: आपने कन्‍वर्ट किया था,जिसके बाद उसे ठीक न करने की वजह से गलतियां छूट गयी हैं।

बिगुल July 21, 2009 at 10:20 AM  

आप ठीक कह रहे हैं। यूनिकोर्ड में कन्‍वर्ट करने के बाद नये अंक के सभी लेखों को पढ़ा जाना जारी है।

बिगुल के बारे में

बिगुल पुस्तिकाएं
1. कम्युनिस्ट पार्टी का संगठन और उसका ढाँचा -- लेनिन

2. मकड़ा और मक्खी -- विल्हेल्म लीब्कनेख़्त

3. ट्रेडयूनियन काम के जनवादी तरीके -- सेर्गेई रोस्तोवस्की

4. मई दिवस का इतिहास -- अलेक्ज़ैण्डर ट्रैक्टनबर्ग

5. पेरिस कम्यून की अमर कहानी

6. बुझी नहीं है अक्टूबर क्रान्ति की मशाल

7. जंगलनामा : एक राजनीतिक समीक्षा -- डॉ. दर्शन खेड़ी

8. लाभकारी मूल्य, लागत मूल्य, मध्यम किसान और छोटे पैमाने के माल उत्पादन के बारे में मार्क्सवादी दृष्टिकोण : एक बहस

9. संशोधनवाद के बारे में

10. शिकागो के शहीद मज़दूर नेताओं की कहानी -- हावर्ड फास्ट

11. मज़दूर आन्दोलन में नयी शुरुआत के लिए

12. मज़दूर नायक, क्रान्तिकारी योद्धा

13. चोर, भ्रष् और विलासी नेताशाही

14. बोलते आंकड़े चीखती सच्चाइयां


  © Blogger templates Newspaper III by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP